Tuesday, September 26, 2023
Homeबिहारऔरंगाबाद बढ़ती महंगाई व जिला को सुखाड़ घोषित करने को लेकर विधायकों...

औरंगाबाद बढ़ती महंगाई व जिला को सुखाड़ घोषित करने को लेकर विधायकों समेत महागठबंधन ने निकाला आक्रोश मार्च

 

औरंगाबाद बढ़ती महंगाई व जिला को सुखाड़ घोषित करने को लेकर विधायकों समेत महागठबंधन उतरा सड़क पर

 

औरंगाबाद जिले में रविवार को महंगाई, बेरोजगारी, अग्निवीर योजना वापसी, व जिला को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करने को लेकर महागठबंधन के द्वारा आक्रोशपूर्ण विरोध मार्च निकाला गया। विरोध मार्च गांधी मैदान से निकलकर मुख्य बाजार होते हुए रमेश चौक पहुंच नुक्कड़ सभा किया गया। सभा को सभी महागठबंधन दल के नेताओं ने सम्बोधित किया। इस मौके पर ओबरा विधायक ऋषि कुमार, गोह विधायक भीम यादव, नवीनगर विधायक विजय कुमार सिंह उर्फ डब्लू सिंह रफीगंज विधायक नेहालुदीन किसान महासभा के राज्य परिषद सदस्य कामरेड जनार्दन प्रसाद , भाकपा माले जिला सचिव कॉम मुनारिक राम राजद जिला अध्यक्ष सुरेश मेहता, सीपीआई जिला सचिव कॉम उपेन्द्र शर्मा, माले नेता चंद्रमा पासवान, रामयोध्या पांडेय, आइसा जिलाध्यक्ष योगेंद्र कुमार, नौजवान सभा के
जिलाध्यक्ष कॉम गुड्डु चंद्रवंशी, सीपीएम जिला सचिव कामरेड महेंद्र यादव, राजद नेता इंदल यादव, शंकर यादव, कांग्रेस जिला अध्यक्ष अरविंद सिंह, महेन्द्र यादव, माले नेता कामरेड राजकुमार भगत, कामरेड कामत यादव संजय तेज इत्यादि नेताओं ने संबोधित करते हुए कहा कि आज कमरतोड़ महंगाई बेरोजगारी से आम जनता कराह रही है।

जिले में मौसम के बेरुखी के कारण अभी तक मात्र 25 प्रतिशत ही धान की रोपाई हो पाई है।
पूरा जिला सुखाड़ के चपेट में है। इसलिए तत्काल जिले को सुखाड़ घोषित करते हुए किसानों को राहत पहुंचाई जाय। आजतक के इतिहास में डीजल पेट्रोल शतक पार नहीं किया था। घरेलू गैस सिलेंडर इतनी महंगी हो गई है कि आम जनता कराह रही है। उज्वला योजना का ढिंढोरा पीटकर गरीबो को सिलेंडर तो उपलब्ध कराई गई परन्तु गैस सिलेंडर की कीमत अबतक के रिकॉर्ड तोड़ 1150 रुपये कर दिया गया, जिससे गैस खरीदने में गरीब परिवार को तो छोड़ दीजिए माध्यम वर्ग के परिवारों को भी रुलाई आ रही है। जबकि केंद्र में भाजपा सरकार इन्हीं महत्वपूर्ण मुद्दों के साथ सत्ता में आई थी। आज ये बुनियादी व महत्वपूर्ण मुद्दे इनके एजेंडा से गायब हो गई है।

देश के सीमाओं पर जान कुर्बान कर हमें देशवासियों को सुरक्षित रखने वाले सेना के जवानों को भी अब ठेके पर नौकरी करने पर मजबूर किया जा रहा है। अग्निवीर योजना इसी का प्रतीक ये देश के नौजवानों के साथ धोखा देने का काम किया जा रहा है। इसलिए अग्निवीर योजना तत्काल वापस लेते हुए पूर्व की भांति स्थाई नौकरी दिया जाय। इस मौके पर विभिन्न दलों तथा महागठबंधन के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments