फरवरी तक नहीं होगी cbse कोई परीक्षा : निशंक

Prakash
Prakash
2 Min Read

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज वेबीनार के माध्यम से देश के शिक्षकों से बातचीत की। इस मीटिंग में केंद्रीय मंत्री ने बताया कि जनवरी और फरवरी माह में किसी भी प्रकार की प्रैक्टिकल की परीक्षा नहीं होगी। उन्होंने यह भी कहा कि फरवरी तक किसी भी तरह की बोर्ड एग्जाम(cbse board exam) नहीं लिए जाएंगे। बोर्ड एग्जाम कब से होंगे इसका फैसला बाद में किया जाएगा।

निशंक नेनिशंक ने कहा कि सरकार विद्यार्थियों के पक्ष में है और उनका भला चाहती है।ऑनलाइन परीक्षा से जुड़े एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि बोर्ड की परीक्षाएं ऑनलाइन संभव नहीं क्योंकि बहुत सारे ऐसे स्कूल है जो ग्रामीण क्षेत्रों में है जहां सभी विद्यार्थियों के पास लैपटॉप कंप्यूटर या मोबाइल एवं अच्छा इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध नहीं है।

सिलेबस को कम करने के सवाल पर निशांक ने कहा कि हम पहले ही 30% सिलेबस घटा चुके हैं, हम नहीं चाहते कि कोई विद्यार्थियों को कहे कि कोविड-19 महामारी में इसने कोविड-19 डिग्री ली है। हम विद्यार्थियों के हित में है और उनका भला चाहते हैं, हमने जेईई मेन और नीट की परीक्षाएं सफलतापूर्वक आयोजित की है बिहार में चुनाव भी हुए हैं।

क्या आप बोर्ड की परीक्षाएं 3 महीने तक स्थगित की जा सकती है इस सवाल के जवाब पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि जनवरी फरवरी के महीने में किसी भी प्रकार की प्रैक्टिकल की परीक्षा नहीं होंगी और फरवरी के अंत तक वोट की कोई भी परीक्षा आयोजित नहीं होगी। फरवरी के बाद सही परिस्थिति में बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी।

श्री निशंक ने कहा कि ऑनलाइन पढ़ाई के अलावा विद्यार्थियों के पास अन्य कई सारे ऑप्शन है जिससे भी पढ़ाई कर सकते हैं वन क्लास वन चैनल दीक्षा पाठशाला और रेडियो प्रोग्राम के जरिए विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिक्षक करो ना काल में भी एक योद्धा की तरह विद्यार्थियों को पढ़ाते रहे हैं।

Share this Article