दरभंगा में मिला जीपीएस यंत्र से लैस गिद्ध का खुला राज, पड़ोसी देश से पहुंचा था बिहार

The Bihar Today News
The Bihar Today News
2 Min Read
दरभंगा में मिला जीपीएस यंत्र से लैस गिद्ध का खुला राज, पड़ोसी देश से पहुंचा था बिहार

[ad_1]

दरभंगा जिला अंतर्गत बहेड़ा थाना क्षेत्र के हावी भौआड़ गांव में बीते 13 नवंबर को बरामद जीपीएस यंत्र से लैस गिद्ध नेपाल की है। नेपाल सरकार द्वारा गिद्ध के अनुकूल वातावरण के अध्ययन के लिए जीपीएस लगाकर छोड़ा गया था। इसमें कहीं भी राष्ट्रीय सुरक्षा आड़े नहीं आ रही है। फिलहाल गिद्ध को पकड़ कर दरभंगा वन्य प्रमंडल कार्यालय में उपचार के लिए रखा गया है। ठीक होते ही उसे मुक्त कर दिया जाएगा। उक्त जानकारी समस्तीपुर वन प्रमंडल पदाधिकारी सह दरभंगा प्रमंडल के वन विभाग के प्रभारी पदाधिकारी सुबोध गुप्ता ने दी।

उन्होंने बताया कि गिद्ध की संख्या काफी कम हो गई है। इस पर नेपाल सरकार अध्ययन कर रही है। चूंकि, दरभंगा से नेपाल की दूरी काफी कम है। गिद्ध काफी बीमार था। इस कारण वह ज्यादा उड़ नहीं सका है और भटकते हुए दरभंगा पहुंच गया। इसकी सूचना मिलते ही वन विभाग के अधिकारियों ने उसे अपने संरक्षण में ले लिया। फिलहाल उसे दरभंगा वन प्रमंडल कार्यालय में रखकर उपचार किया जा रहा है।

13 नवंबर को दरभंगा जिला के बहेड़ा थाना अंतर्गत हावी भौआड़ गांव में ग्रामीणों ने जीपीएस यंत्र से लैस एक गिद्ध को पकड़ लिया था। इसके बाद स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई थी। बाद में वन विभाग द्वारा उसे संरक्षण में ले लिया गया था। जिसके बाद फिर दो दिन बाद दरभंगा के अलीनगर स्थित धमुआरा धमसाइन चौर में ग्रामीणों ने एक गिद्ध को पकड़ा। डीएफओ ने बताया कि जंगली गिद्ध है। उसमें किसी प्रकार का यंत्र नहीं लगा है। भूखे या बीमार होने के कारण वह जमीन पर गिर गया था।

[ad_2]

Share this Article